अधिशासी आधिकारी

श्रीमती रूकमणि विष्ट  (अधिशासी अधिकारी)


आधुनिकरण एवं तकनीक का दौर है। जब से हमने बदलती तकनीकों का साथ पकड़ा है निसंदेह अपार सफलता हासिल हुई है। जो कार्य लम्बे समय में हो पाता था आज वही कार्य चंद समय में हो जाता है। हर क्षेत्र में नवीन तकनीकों ने अभूतपूर्व सफलता का इतिहास रचा है। विकास के क्षेत्र में भी टैक्नोलाॅजी से काफी सहयोग मिल रहा है। शासन द्वारा संचालित हर योजना को यथार्थ के धरातल पर लाने, सुविधाओं को जन जन तक पहुंचाने एवं विकास कार्यो में तेजी लाने के साथ उन्हें पारदर्शी बनाने के उद्ेश्य से सम्पूर्ण टाउन को आॅनलाइन करा दिया है। यानि कि अब हमारे टाउन की प्रत्येक सम्पत्ति, गली, मोहल्ला, मकान, दुकान, मंदिर, मस्जिद एवं सरकारी संस्थान आदि सब भौगोलिक सूचना प्रणाली के जरिये आॅनलाइन कर दिये गये है। जी.आई.एस. सर्वे पूर्ण होने के बाद सम्पूर्ण टाउन की वास्तविक स्थिति की तस्वीर आॅनलाइन हो गयी है। अब हमारा पूरा प्रयास है कि जो क्षेत्र विकास से वंचित है वहां विकास हो तथा जिन-जिन परिवारों में शासन की संचालित योजनाओं छूट रही है उन तक वे योजनायें पहुंच सके।

शासन के निर्देशों के पालनार्थ एवं समय के साथ चलने के लिए सम्पूर्ण टाउन का डिजिटलाइजेशन कराना नितांत अनिवार्य हो गया था। इसीलिए अध्यक्ष महोदय एवं बोर्ड की राय के बाद विभागीय उच्चाधिकारियों की अनुमति से नगर को पूरी तरह से डिजिटल करा दिया गया है। इसके बाद नगर पंचायत के कर्मचारियों को भी कार्य करने में सुविधा होगी वहीं पंचायत के रिकार्ड को भी सुरक्षित रखा जा सकेगा।